Oral SEX Guide, Benefits, Disadvantages in Hindi

oral sex

जब आप अपने विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित होते है सेक्स के दौरान और उनके प्राइवेट पार्ट को अपने मूह से मैथुन करते है तो ये ओरल सेक्स कहा जाता है, सेक्स करने के पहले अगर आप ओरल सेक्स करते है सेक्स का मज़ा दुगुना हो जाता है, आप ओरल सेक्स से आप एक दूसरे के करीब भी आते है और सेक्स की चरम सीमा का आनद लेते है, कई लोगो को ये अच्छा नही लगता है, इसका एक वजह है सॉफ सफाई का नही होने, इसलिए आप हमेशा सॉफ रहे,

ओरल सेक्स से कोई बीमारी नहीं होती। अगर दोनों पार्टनर इंफेक्शन से पीड़ित नहीं हैं और दोनों की रजामंदी भी है, तो ओरल सेक्स बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। तकरीबन 1600 साल पहले ऋषि वात्स्यायन ने कहा था कि उत्तेजना बढ़ाने के लिए यह एक सर्वोत्तम प्रक्रिया है। मॉडर्न साइंस भी इसे गलत नहीं मानता। इतना ही नहीं, इसे उत्तेजना में इजाफा करने वाला सबसे बेहतर विकल्प माना जाता है।

अगर किसी को ओरल सेक्स पसंद है, तो साफ-सफाई का बहुत ध्यान रखें। खासतौर पर प्राइवेट पार्ट के हाइजीन का। ओरल सेक्स के दौरान सीमेन निगलने से मोटापा हो जाता है, यह भी एक गलतफहमी है। अगर हाइजीन का पूरा ध्यान रखें तो इससे कोई दूसरा नुकसान भी नहीं होता।

नोट : ओरल सेक्स में साफ सफाई का बहुत ध्यान रखें। सबसे जरूरी बात यह है कि ओरल सेक्स के लिए अपने पार्टनर पर दबाव न डालें। दोनों की इच्छा हो तब ही आगे बढ़ें।

आशा करता हू की आप ओरल सेक्स का मज़ा ले और अपने साथी को भी मज़ा दे. आपसे अनुरोध है की आप भी अपना एक्सपीरियेन्स नीच बताये ताकि लोगो का भ्रम टूट सके और सेक्स पार्ट्नर एक दूसरे को समझ सके